Floral Pattern
Floral Pattern

पोथी पढ़ि पढ़ि जग मुआ, पंडित भया न कोय। ढाई आखर प्रेम का, पढ़े सो पंडित होय॥ अर्थ - अगर कोई प्रेम के केवल ढाई अक्षर ही अच्छी तरह समझ ले, अर्थात प्यार का वास्तविक रूप पहचान ले तो वही सच्चा पंडित हैं।

chotakadam.com

Floral Pattern
Floral Pattern